Connect with us

खेल

अनुष्का शर्मा ने विराट को किया KISS सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

Published

on

anushka-sharma-
फोटो इंस्टाग्राम

क्रिकेटर विराट कोहली इन दिनों साउथ अफ्रीका सीरीज के बाद रेस्ट पर हैं। वो श्रीलंका में खेली गई निदास ट्रॉफी में नहीं खेल रहे हैं। बीसीसीआई ने उन्हें रेस्ट दिया है। ऐसे में वो परिवार के साथ टाइम स्पेंड कर रहे हैं।

विराट आज कल सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहने लगे हैं। वो हर मौके पर फैन्स से कुछ न कुछ शेयर करते रहते है। लेकिन इस बार विराट कोहली ने कुछ ऐसा किया जिससे फैन्स के चेहरों पर मुस्कान आ गई। उन्होंने अनुष्का शर्मा के साथ तस्वीर पोस्ट की है। जो कुछ ही घंटों में वायरल हो गई।

💑

A post shared by AnushkaSharma1588 (@anushkasharma) on

उनके पोस्ट के कुछ ही मिनटों बाद अनुष्का शर्मा ने एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें वो विराट कोहली को किस कर रही हैं। ये तस्वीर भी वायरल हो गई। फैन्स को विराट कोहली और अनुष्का शर्मा के पोस्ट का इंतजार रहता है। क्योंकि वो बड़े क्यूट तरह से प्यार का इजहार करते हैं। जो फैन्स को काफी अच्छा लगता है।

Chilling and how! 😎

A post shared by Virat Kohli (@virat.kohli) on

बड़े दिनों बाद जब अनुष्का विराट से मिलीं तो उन्होंने किस करते हुए तस्वीर पोस्ट की। इस फोटो में 12 घंटे में 20 लाख लाइक्स मिले। तो वहीं विराट की तस्वीर को 15 घंटे में 21 लाख लाइक्स मिले। विराट कोहली दुनिया के सबसे ज्यादा पेड एथलीट्स में से एक हैं तो वहीं अनुष्का शर्मा बॉलीवुड इंडस्ट्री की सबसे बड़ी एक्ट्रेस हैं।

दोनों की पहली मुलाकात 2013 में शैम्पू एड के दौरान हुई थी। जिसके बाद दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे थे। दोनों फुटबॉल मैच में साथ नजर आ चुके हैं। विराट कोहली रेस्ट पर हैं तो रोहित शर्मा टीम इंडिया के कप्तान बने हुए हैं।

Wefornews Bureau

खेल

चैम्पियंस ट्रॉफी : भारत ने दर्ज की दूसरी जीत, ओलम्पिक विजेता को हराया

Published

on

ChampionsTrophy2018
champions trophy 2018

ब्रेदा (नीदरलैंडस)। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने रविवार को चैम्पियंस ट्रॉफी के अपने दूसरे मुकाबले में ओलम्पिक विजेता अर्जेटीना को 2-1 से मात देकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। पहले मुकाबले में उसने शनिवार को ही चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 4-0 से मात दी थी।

भारत के लिए हरमनप्रीत सिंह और मनदीप सिंह ने गोल किए। अर्जेटीना के लिए गोंजालेज पेलिएट ने एकमात्र गोल किया। भारत के वरिष्ठ खिलाड़ी सरदार सिंह का यह 300वां अंतर्राष्ट्रीय मैच था।

पहले क्वार्टर की शुरुआत दोनों टीमों ने धीमी की और किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं दिखीं। भारत ने हालांकि धीरे-धीरे अर्जेटीना के घेरे में जाना शुरू किया। उसे चौथे मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर मिल सकता था जिसे अर्जेटीना ने रेफरल लेकर नकार दिया।

अर्जेटीना कुछ देर बाद लय में आई और उसे 11वें मिनट में लगातार दो पेनाल्टी कॉर्नर मिले जिसे उसने जाया कर दिया। पहले क्वार्टर का अंत बिना गोल के हुआ।

दूसरे क्वार्टर में 17वें मिनट में भारत को पहला पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे हरमनप्रीत ने गोल में बदल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाने में कोई गलती नहीं की। अगले ही मिनट भारत ने एक और मौका बनाया लेकिन अर्जेटीनी डिफेंस ने एस.वी सुनील को रास्ते में ही रोक दिया।

20वें मिनट में अर्जेटीना ने लगभग गोल कर ही दिया था जिसे श्रीजेश ने नकार दिया। अर्जेटीना बराबरी का गोल करने को बेताब दिख रहा था। इसी बीच भारत ने 28वें मिनट में गोल कर उसकी परेशानी को और बढ़ा दिया। यह गोल मनदीप ने दिलप्रीत के पास पर किया।

अर्जेटीना को अगले मिनट पेनाल्टी कॉर्नर मिला और इस बार गोंजालेज गोल करने में कामयाब रहे। दूसरे क्वार्टर के अंत तक स्कोर भारत के पक्ष में 2-1 था।

तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में दोनों टीमें धीमा खेल खेल रही थीं, लेकिन अंत तक आते दोनों ने कुछ अच्छे मूव बनाए। 41वें मिनट में मनदीप के पास वन टू वन चांस में गोल करने का आसान मौका था, लेकिन वह जब तक गेंद को नेट में डाल पाते उससे पहले ही अर्जेटीना के दो डिफेंडरों ने उनका रास्ता रोक दिया।

अर्जेटीना की कोशिश पेनाल्टी कॉर्नर हासिल करने की थी जिसमें 43वें मिनट में वह सफल रही। हालांकि वह इस मौके पर बराबर का गोल नहीं कर पाई। अगले ही मिनट दिलप्रीत ने भारत के लिए मौका बनाया। दिलप्रीत, मनदीप और ललित साथ मिलकर भी गेंद को नेट में नहीं डाल पाए। इसी दौरान सुरेंद्र कुमार को ग्रीन कार्ड मिला और उन्हें बाहर जाना पड़ा।

आखिरी क्वार्टर में अर्जेटीना बराबरी की कोशिश में था। इसी कारण वह आक्रमक खेल खेल रहा था बावजूद इसके वह दूसरा गोल नहीं कर सका। उसने हालांकि भारत को तीसरा गोल करने से महरूम भी रखा।

WeForNews

Continue Reading

खेल

फीफा विश्व कप 2018 : जर्मनी ने स्‍वीडन को हराया, प्री-क्वार्टर फाइनल की जगी उम्मीद

Published

on

germany
जीत के बाद जश्‍न मनाते जर्मन खिलाड़ी।

सोचि। फीफा विश्व कप की मौजूदा चैम्पियन जर्मनी ग्रुफ एफ के अपने दूसरे मुकाबले में करिश्माई मिडफील्डर टॉनी क्रूस के इंजुरी टाइम (95वें मिनट) में किए गए दमदार गोल की बदौलत स्वीडन को 2-1 से हराया। इस जीत के बाद जर्मनी के तीन अंक हो गए हैं और उसने प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है।

फिश्ट स्टेडियम में जर्मनी ने मैच की आक्रामक शुरुआत की और चौथे मिनट में ही जूलियन ड्रेक्सलर को स्वीडन के बॉक्स में छह गज की दूरी से गोल करने का शानदार मौका मिला लेकिन वह डिफेंडर को छकाने में कामयाब नहीं हो पाए।

मैच के 12वें मिनट में स्वीडन ने बेहतरीन काउंटर अटैक किया। जर्मनी के खिलाड़ी ने मिडफील्ड में गेंद पर नियंत्रण खोया और स्वीडन के स्ट्राइकर मार्कस बर्ग ने गेंद के साथ हाफ-लाइन से अच्छी दौड़ लगाई। हालांकि, विश्व के सर्वश्रेष्ठ गोलकीपरों में शुमार मैनुअल नॉयर ने बॉक्स में शानदार बचाव करके विपक्षी टीम को शुरुआती बढ़त नहीं बनाने दी ।

इस काउंटर अटैक के बाद भी जर्मनी ने अपना आक्रामक खेल जारी रखा लेकिन स्वीडन मैच का पहला गोल करने में सफल रही। 32वें मिनट में जर्मनी के खिलाड़ी ने एक बार फिर अपने हाफ में गेंद पर नियंत्रण खोया और स्वीडन के मिडफील्डर विक्टोर क्लाएसन ने ओला तोइवोनेन को शानदार पास दिया जिन्होंने नॉयर को छकाते हुए गेंद को गोल में डालकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।

पहले हाफ के इंजुरी टाइम (47वें मिनट) में सेबस्टियन लार्सन ने बॉक्स के बाहर से बेहतरीन फ्री-किक लीया जिस पर बर्ग हेडर लगाने में कामयाब रहे लेकिन नॉयर ने अपने दाईं ओर कूदते हुए शानदार बचाव किया।

जर्मनी ने दूसरे हाफ की भी दमदार शुरुआत की और 48वें मिनट में बराबरी का गोल दागा। स्ट्राइकर टीमो वर्नर ने दाएं फ्लेंके से बॉक्स में शानदार पास दिया। मिडफील्डर मार्को रेउस ने गेंद को गोल में डालने में कोई गलती नहीं की और टूर्नामेंट के 21वें संस्करण का अपना पहला गोल दागा।

मैच के 61वें मिनट में रेउस एवं मारियो गोमेज को छह गज की दूरी से जर्मनी को बढ़त दिलाने का शानदार मौका मिला लेकिन दोनों खिलाड़ी दाईं छोर से मिले पास पर गोल नहीं कर पाए।

जर्मनी को 82वें मिनट में झटका लगा, डिफेंडर जेरोम बोटेंग को दूसरा पीला कार्ड मिलने के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा। हालांकि, इससे जर्मनी के आक्रामक रूख में काई बदलाव नहीं आया और 88वें मिनट में गोमेज ने बॉक्स में शानदार हेडर लगाया लेकिन गोलकीपर मार्टिन ओलसन ने स्वीडन को मैच में बनाए रखा।

इंजुरी टाइम में जर्मनी को बॉक्स के पास बाईं छोर पर फ्री-किक मिली जिस पर टॉनी क्रूस ने शानदार गोल दागते हुए अपनी टीम को अप्रत्याशित जीत दिला दी।

जर्मनी ग्रुप स्तर के अपने अगले मुकाबले में बुधवार को दक्षिण कोरिया से भिड़ेगी जबकि स्वीडन का सामना मेक्सिको से होगा।

–आईएएनएस

Continue Reading

खेल

फीफा विश्व कप : अंतिम-16 में पहुंचा मेक्सिको

Published

on

mexico team
जीत का जश्‍न मनाते मेक्सिको के खिलाड़ी।

रोस्टोव ऑन डॉन। मेक्सिको ने फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में रोस्टोव एरिना में खेले गए ग्रुप-एफ के अपने दूसरे मैच में कोरिया को 2-1 से मात देकर प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है।

यह मेक्सिको की इस विश्व कप में लगातार दूसरी जीत है। पहले मैच में मेक्सिको ने मौजूदा विजेता जर्मनी को 1-0 से मात दी थी। वह अपने ग्रुप से अंतिम-16 में पहुंचने वाली पहली टीम बनी है।

मेक्सिको के लिए कार्लोस वेला ने पहले हाफ में और जेविरयर हर्नाडेज ने दूसरे हाफ में गोल किए। कोरिया के लिए हेयून मिन सोन ने आखिरी मिनट में इकलौता गोल किया।

मैच में मेक्सिको पूरी तरह से कोरिया पर हावी रही। मेक्सिको ने अपना पहला करीबी मौका 12वें मिनट में बनाया जब उसे प्री किक मिली। मिग्युएल लायुन ने गेंद आंद्रेस हर्नाडेज के पास पहुंचाई जो उसे बाहर खेल बैठे।

कोरिया के पास 21वें मिनट में पहला मौका आया। गुआडाडरे गेंद को अपने पास ले नहीं पाए सोन ने इस मौके को भुनाने का प्रयास किया। गोल खाली पड़ा था, लेकिन सोन चूक गए। उन्होंने एक के बाद एक तीन प्रयास किए जिसे जो बेकार हो गए। इसके बाद कोरिया को लगातार दो कॉर्नर मिले जो बेकार चले गए।

यहां मेक्सिको ने काउंटर अटैक किया और कोरिया के बॉक्स में घुस गए। इसी दौरान गेंद गलती से कोरियाई खिलाड़ी जांग ह्यन सू के हाथ से टकरा गई। रेफरी ने मेक्सिको को पेनाल्टी दी जिसे वेला ने गोल में बदल कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया।

कोरिया यहां से दवाब में थी और मेक्सिको आक्रमण करते हुए खेल रही थी। 43वें मिनट में एक बार फिर मेक्सिको के लाजानो ने 15 यार्ड की दूरी से गेंद को गोल में डालना चाहा, लेकिन उनकी कोशिश को अंजाम तक पहुंचाने के लिए कोई मौजूद नहीं था।

दूसरे हाफ में आते ही लोजानो ने एक और मौका बनाया। इस बार वो गेंद को बार के ऊपर से खेल बैठे।

58वें मिनट में कोरिया के गोलकीपर चू ह्यून वू ने आंद्रेस हर्नाडेज के बॉक्स के बाहर से खेले गए झन्नोदार शॉट को दाईं तरफ डाइव मार रोक मेक्सिको के खाते में दूसरा गोल नहीं जाने दिया।

वू हालांकि 66वें मिनट में जेवियर को गोल करने से रोक नहीं पाए। यह जेवियर के अंतर्राष्ट्रीय करियर का 50वां गोल था। लोजानो ने मध्य से गेंद ली और गोल की तरफ दौड़ पड़े। बॉक्स से पास आते ही उन्होंने बाएं तरफ जेवियर को गेंद दी जिन्होंने पहले एक डिफेंडर के सामने से गेंद को काटा और फिर उसे नेट में डाल अपनी टीम को 2-0 से आगे कर दिया।

सोन ने एक बार फिर 75वें मिनट में कोरिया के लिए गोल करने का मौका हड़बड़ी में गंवा दिया। वो हालांकि 93वें मिनट में अपनी टीम के लिए पहला गोल करने में कामयाब रहे। उन्होंने बॉक्स के बाहर से गेंद को गोल के दाएं कोने में डाल अपनी टीम का गोल का सूखा खत्म किया।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular