Connect with us

राजनीति

अमृतसर हादसे में अनाथ हुए बच्चों की जिम्मेदारी उठाएंगे सिद्धू

Published

on

navjot-singh-sidhu
पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (फोटो: एएनआई)

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अमृतसर हादसे में अनाथ हुए बच्‍चों की जिम्‍मेदारी उठाने ऐलान किया है। सिद्धू ने कहा कि उन्होंने जिंदगी में एक वादा किया था कि गुरु की धरती अमृतसर से ही चुनाव लड़ेंगे और आज दूसरा वादा कर रहे हैं कि अब अनाथ हुए परिवारों का ताउम्र पालन करेंगे। सिद्धू ने पंजाब सरकार की ओर मृतकों के रिश्‍तेदारों को 5-5 लाख रुपये के चेक भी वितरित किये।

सिद्धू ने रेलवे जांच पर आरोप लगाये। उन्‍होंने कहा कि रेलवे को जांच की नहीं क्‍लीनकरने की नहीं क्लीन चिट देने की जल्दी पड़ी है। उनके साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने आरोप लगाया कि रेलवे ने सबूतों को नष्ट कर दिया है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि जोड़ा फाटक से 200 मीटर दूर दशहरा मनाया जा रहा था, यह गेटमैन को क्यों नहीं दिखा? 10 मिनट पहले वहां से गुजरी एक ट्रेन धीमी रफ्तार से निकल सकती है तो दूसरी क्यों नहीं? ड्राइवर को किस बात की जल्दी थी? वह इतनी स्पीड में क्यों भागे जा रहा था? इमरजेंसी ब्रेक किस तरह लगाए गए कि ट्रेन रुकी ही नहीं ?

इस मौके पर पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि केंद्र सरकार पर तरस आता है कि वह बुलेट ट्रेन चलाने की बात करती है लेकिन डीएयू भी नहीं चला पा रही है। जाखड़ ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर की सरकार ने सभी मारे गए लोगों के परिजनों को नौकरी देने की बात की है।

WeForNews

चुनाव

गहलोत ने राजस्थान सीएम और पायलट ने डिप्टी सीएम की ली शपथ

Published

on

ashok gehlot and sachin pilot

जयपुर के अल्बर्ट हॉल में सोमवार को अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री पद की और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेता शामिल हुए। वहीं राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुईं।

इससे पहले गहलोत और पायलट के आवास पर उनके समर्थकों और पार्टी के कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा हुआ था। लोगों ने अपने नेता को बधाई दी। फूल और मालाएं पहनाई।

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने से पहले अशोक गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि एक बार जब कैबिनेट को लेकर फैसला हो जाए। मुख्यमंत्री कैबिनेट की सालाह पर काम करना शुरू कर देंगे। जनता के हित में जो कुछ भी होगा वह किया जाएगा। घोषणापत्र हमारी पहली प्राथमिकता होगी।

वहीं शपथग्रहण समारोह से पहले जयपुर में सचिन पायलट के आवास पर भी समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा। इस दौरान पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य और लोगों के लिए यह नई शुरूआत है। लोगों ने हम पर भरोसा किया है। आज से ही काम शुरू हो जाएगा। जैसे ही कैबिनेट बनेगा और बेहतर ढंग से काम होगा और लोगों से किए गए वोदों को हम पूरा करेंगे और उनकी उम्मीदों पर खरे उतरेंगे।

WeForNews 

Continue Reading

राजनीति

रायबरेली के सरकारी कार्यक्रम को मोदी ने बना दिया अखाड़ा: कांग्रेस

Published

on

pm modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)।

कांग्रेस पार्टी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ने रायबरेली में रेल कोच फैक्ट्री के विस्तार परियोजना का शुभारंभ करते हुए उसे राजनीतिक अखाड़ा बना दिया।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता ओंकारनाथ सिंह ने कहा कि आश्चर्य की बात है कि प्रधानमंत्री ने इसका भी संज्ञान नहीं लिया कि इस सरकारी कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल और उप्र विधानसभा के अध्यक्ष उपस्थित हैं। उन्होंने इन दोनों महान विभूतियों को विषम स्थिति में डाल दिया। उन्होंने यह ख्याल भी नहीं रखा कि सभी राजनीतिक दल और प्रदेश की जनता राज्यपाल को निर्विवाद रूप में देखती है और उनसे न्याय की अपेक्षा करती है। साथ ही सभी राजनीतिक दल के विधायक विधानसभा अध्यक्ष से निष्पक्ष निर्णय की अपेक्षा रखते हैं।

सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सरकारी कार्यक्रम के मौके पर कांग्रेस पार्टी के नेताओं की आलोचना कर जो इसे राजनीतिक मंच बना दिया, उसकी जितनी भी निंदा की जाए, कम है।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता ने आईपीएन को दिए अपने बयान में कहा कि अच्छा होता भाजपा इस कार्यक्रम के बाद अपना कार्यक्रम करती और उसमें प्रधानमंत्री जो चाहते, बोलते। इससे स्पष्ट प्रतीत होता है कि भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री सहित अपने सभी नेताओं की जो भी रैली करती है, उसको सरकारी रूप इसीलिए देती है, ताकि सरकार के पैसे का उपयोग पार्टी के हित के लिए कर सके।

प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री उप्र की धरती पर संबोधन कर रहे थे, पर बुलंदशहर में हुए दंगे के बारे में एक शब्द भी नहीं कहा। राफेल के बारे में स्पष्टीकरण देने के बजाय जनता को भ्रमित करने का प्रयास किया। प्रदेश की कानून व्यवस्था पर एक शब्द भी नहीं बोले।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने गोस्वामी तुलसीदास की चौपाई का उदाहरण देते हुए जो कहा है ‘झूठहि लेना झूठहि देना, झूठहि भोजन झूठ चबेना’ यह उन्हीं पर सीधे-सीधे चरितार्थ होता है, क्योंकि जनता से उन्होंने 2 करोड़ नौकरी प्रतिवर्ष देने का वादा किया, 15 लाख खाते में देने का वादा किया, किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य देने का वादा किया, नोटबंदी के फायदे का असर पचास दिन में दिखाने का वादा किया और जीएसटी से व्यापार व्यवस्था में सुधार का वादा किया, जिसमें कोई भी वादा सफल नहीं हो पाया, सभी झूठा साबित हो चुका है। जनता को निराश होना पड़ा और उसी का परिणाम है कि अभी पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ा है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि इतना ही नहीं, प्रधानमंत्री की सभा में भीड़ न जुट पाने पर जिला प्रशासन को भीड़ जुटाने की जिम्मेदारी दी गई। इससे साबित होता है कि अब भारतीय जनता पार्टी को प्रदेश और देश की जनता ने नकार दिया है।

–आईएएनएस

Continue Reading

चुनाव

राजनीति के ‘जादूगर’ हैं राजस्थान के नये मुख्यमंत्री

Published

on

ashok gehlot

राजस्थान के नये मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को प्रदेश की सियासत में जमीन से जुड़ा नेता कहा जाता है। काफी समय से राजनीति में सक्रिय गहलोत राजस्थान में काफी लोकप्रिय रहे और उन्हें ‘राजनीति का जादूगर’ और ‘मारवाड़ का गांधी’ जैसे उपनामों से भी बुलाया जाता है।

गहलोत ने समय-समय पर पार्टी को न सिर्फ ऊंचाई दी बल्कि विरोधियों को भी बता दिया राजनीति के दंगल में उनका नाम ही काफी है।

बता दें कि साल 2013 के राजस्थान विधानसभा चुनाव और फिर 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली हार के बाद भी अशोक गहलोत ने राज्य में अपनी पार्टी को प्रासंगिक बनाए रखा। राजनीति में माहिर गहलोत ने 2018 के राज्य विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बहुमत के जादुई आंकड़े के करीब लाने में अहम भूमिका निभाई।

राजनीतिक जानकारों की माने तो पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अशोक गहलोत को राजनीति में लेकर आईं। गहलोत के रूप में इंदिरा गांधी ने एक हीरा देखा जिसे कांग्रेस को समय-समय पर चमकाना था। दरअसल उस दौरान गहलोत पूर्वोत्तर क्षेत्र में शरणार्थियों के बीच अच्छा काम कर रहे थे और इंदिरा उनके काम से काफी खुश थीं।

3 मई 1951 को जन्मे गहलोत ने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1974 में एनएसयूआई के अध्यक्ष के रूप में की। 1971 तक इस पद पर रहे। गहलोत 1979 से 1982 तक कांग्रेस पार्टी के जोधपुर जिला अध्यक्ष रहे। 1982 में प्रदेश कांग्रेस कमिटी के महासचिव बने। उसी दौरान गहलोत सांसद बने।

1998 से 2003 और 2008 से 2013 तक राजस्थान के दो बार मुख्यमंत्री रहे। 5 बार लोकसभा सांसद और कई बार मंत्री भी रहे।

गहलोत 1980 से 1999 तक पांच बार 7वीं, 8वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं लोकसभा के लिए भी चुने गए। गहलोत 1999 से जोधपुर के सरदारपुरा विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। वह 11वीं, 12वीं,13वीं और 14वीं राजस्थान विधानसभा के सदस्य रह चुके हैं।

WeForNews 

Continue Reading
Advertisement
ashok gehlot and sachin pilot
चुनाव1 min ago

गहलोत ने राजस्थान सीएम और पायलट ने डिप्टी सीएम की ली शपथ

parliament-min
राष्ट्रीय3 mins ago

हंगामे के चलते राज्यसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित

शहर12 mins ago

नोएडा में स्कूल की दीवार ढही, 2 छात्रों की मौत

Sajjan Kumar
राष्ट्रीय50 mins ago

सिख विरोधी दंगों में सज्जन कुमार को उम्रकैद

accident
शहर1 hour ago

उत्तर प्रदेश: ट्रैक्टर-ट्रॉली और बोलेरो की टक्कर में 5 की मौत

Jammu-Kashmir
शहर1 hour ago

कश्मीर में शीतलहर का प्रकोप जारी

शहर2 hours ago

13 साल का भारतीय लड़का बना सॉफ्टवेयर कंपनी का मालिक

sensex-min
व्यापार2 hours ago

हरे निशान में खुले शेयर बाजार

Miss Universe
मनोरंजन2 hours ago

Miss Universe 2018: मिस फिलीपीन्स के सिर सजा ताज

pm modi
राजनीति3 hours ago

रायबरेली के सरकारी कार्यक्रम को मोदी ने बना दिया अखाड़ा: कांग्रेस

jewlary-
लाइफस्टाइल4 weeks ago

सर्दियों में आभूषणों से ऐसे पाएं फैशनेबल लुक…

Congress-reuters
राजनीति3 weeks ago

संघ का सर्वे- ‘कांग्रेस सत्ता की तरफ बढ़ रही’

Sara Pilot
ओपिनियन3 weeks ago

महिलाओं का आत्मनिर्भर बनना बेहद जरूरी : सारा पायलट

Phoolwaalon Ki Sair
ब्लॉग4 weeks ago

फूलवालों की सैर : सांप्रदायिक सद्भाव का प्रतीक

Bindeshwar Pathak
ज़रा हटके4 weeks ago

‘होप’ दिलाएगा मैन्युअल सफाई की समस्या से छुटकारा : बिंदेश्वर पाठक

bundelkhand water crisis
ब्लॉग3 weeks ago

बुंदेलखंड में प्रधानमंत्री के दावे से तस्वीर उलट

Toilets
ब्लॉग3 weeks ago

लड़कियों के नाम, नंबर शौचालयों में क्यों?

Ranveer singh-
मनोरंजन2 weeks ago

दीपिका-रणवीर के रिसेप्शन में पहुंचे बॉलीवुड के ये सितारे, देखें तस्वीरें

Tigress Avni
ब्लॉग3 weeks ago

अवनि मामले में महाराष्ट्र सरकार ने हर मानक का उल्लंघन किया : सरिता सुब्रमण्यम

Cervical
लाइफस्टाइल4 weeks ago

ये उपाय सर्वाइकल को कर देगा छूमंतर

Jammu-Kashmir
शहर1 hour ago

कश्मीर में शीतलहर का प्रकोप जारी

delhi-bus--
मनोरंजन1 day ago

निर्भया पर बनी फिल्म ‘दिल्ली बस’, इस दिन होगी र‍िलीज

Kapil Sibal
राष्ट्रीय3 days ago

राफेल पर सिब्‍बल का शाह को जवाब- ‘जेपीसी जांच से ही सामने आएगा सच’

Rajinikanth-
मनोरंजन5 days ago

रजनीकांत के जन्मदिन पर ‘पेट्टा’ का टीजर रिलीज

Jammu And Kashmir
शहर1 week ago

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में बर्फबारी

Rajasthan
चुनाव1 week ago

राजस्थान में सड़क पर ईवीएम मिलने से मचा हड़कंप, दो अफसर सस्पेंड

ISRO
राष्ट्रीय2 weeks ago

भारत का सबसे भारी संचार उपग्रह कक्षा में स्थापित

ShahRukh Khan-
मनोरंजन2 weeks ago

शाहरुख की फिल्म ‘जीरो’ का दूसरा गाना रिलीज

Simmba-
मनोरंजन2 weeks ago

रणवीर की फिल्म ‘सिम्बा’ का ट्रेलर रिलीज

Sabarimala
राष्ट्रीय2 weeks ago

सबरीमाला विवाद पर केरल विधानसभा में हंगामा, विपक्ष ने दिखाए काले झंडे

Most Popular