Connect with us

स्वास्थ्य

जीका संक्रमण से भी गर्भपात संभव

Published

on

zika-virus
File Photo

एक नया शोध बताता है कि जीका संक्रमण के कारण किसी महिला की गर्भावस्था में बाधा पड़ सकती है। इसका कोई लक्षण भले ही नजर न आता हो, लेकिन यह गर्भपात और मृत शिशु के जन्म का कारण हो सकता है।

जीका वायरस के कारण दिमागी विकृतियों वाले बच्चे पैदा होते हैं। इस समस्या को ‘माइक्रोसिफेली’ कहा जाता है। मनुष्यों में जीका संक्रमण होने पर बुखार, शरीर में चकत्ते, सिरदर्द, जोड़ों और मांसपेशी में दर्द, और आंखों में लाल रंग आना प्रमुख है।

एक और खोज में यह पता लगा है कि भारत का जीका रोग आनुवंशिक रूप से दो अन्य रोगजनक वैश्विक प्रकारों – अफ्रीकी और एशियाई से अलग है, क्योंकि यह मच्छरों को संक्रमित करने में असमर्थ है। हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (सीएफआई) के अध्यक्ष पद्मश्री डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा कि डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया की तरह ही जीका एक बड़ी जन-स्वास्थ्य समस्या है। जीका वायरस से संक्रमित कई लोग खुद को बीमार महसूस नहीं करते।

यदि मच्छर किसी संक्रमित व्यक्ति को काटता है, जिसके खून में वायरस मौजूद हैं, तो यह किसी अन्य व्यक्ति को काटकर वायरस फैला सकता है। उन्होंने कहा कि वायरस संक्रमित महिला के गर्भ में फैल सकता है और शिशुओं में माइक्रोसिफेली और अन्य गंभीर मस्तिष्क रोगों का कारण बन सकता है।

वयस्कों में यह गुलैन-बैरे सिंड्रोम का कारण बन सकता है, जिसमें शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली नसों पर हमला करती है, जिससे कई जटिलताओं की शुरुआत होती है। डॉ. अग्रवाल ने कहा कि जीका वायरस संक्रमण के लिए कोई टीका नहीं है। उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों की यात्रा पर जाने वालों, विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं का मच्छरों से भलीभांति बचाव करना चाहिए।

उन्होंने कहा, “समय की मांग है कि देश में वायरस के फैलाव पर निगरानी बढ़ाई जाए। मोहल्लों, बस्तियों, शहरों के अलावा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डों, बंदरगाहों जैसी जगहों पर अलर्ट रहा जाए।”

एचसीएफआई के कुछ सुझाव :

* जब एडिस मच्छर सक्रिय होते हैं, उस समय घर के अंदर रहें। ये मच्छर दिन के दौरान, सुबह बहुत जल्दी और सूर्यास्त से कुछ घंटे पहले काटते हैं।

* जब आप बाहर जाएं तो जूते, मोजे, लंबी आस्तीन वाली शर्ट और फुलपैंट पहनें।

* यह सुनिश्चित करें कि मच्छरों को रोकने के लिए कमरे में स्क्रीन लगी हो।

* ऐसे बग-स्प्रे या क्रीम लगाकर बाहर निकलें, जिसमें डीट या पिकारिडिन नामक रसायन मौजूद हो।

–आईएएनएस

स्वास्थ्य

रोज एक अंडा खाने से होते हैं ये फायदे….

Published

on

egg-
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

ज्यादातर लोगों को ये पता है कि अंडा एक पौष्ट‍िक खाद्य है। ऐसा कम ही लोग जानते हैंं कि अंडा खाने से क्या-क्या फायदे होते हैं। अंडा प्रोटीन और अमीनो एसिड का एक बहुत अच्छा सोर्स है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

कुछ ही ऐसी चीजें होती हैं जिनमें संपूर्ण प्रोटीन होता है और अंडा उनमें से एक है। साथ ही इसमें सभी नौ जरूरी अमीनो एसिड्स भी पाए जाते हैं जो शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं। इसके अलावा ये विभिन्न प्रकार के विटामिन्स जैसे विटामिन A, B12, D और E से भी भरपूर होता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

अंडा फोलेट, सेलेनियम और दूसरे कई प्रकार के लवणों से भी युक्त होता है। चीन में हुई एक स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया गया है कि दिनभर में एक अंडा खाने से दिल संबंधी बीमारियों का खतरा बेहद कम हो जाता है। ‘हार्ट जर्नल’ में प्रकाशित इस स्टडी में लगभग 4 लाख लोगों को शामिल किया गया है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

आइए जानें, क्या कहती है स्टडी की रिपोर्ट…

स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना अंडा खाने वाले लोगों में दिल की बीमारी की वजह से मौत होने की संभावना अंडा न खाने वाले लोगों के मुकाबले 18 फीसदी कम होती है। इतना ही नहीं दिल की बीमारी से पीड़ित लोगों में हार्ट अटैक, स्ट्रोक और दिल संबंधी कई दूसरी समस्याएं होने का खतरा रहता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

आजकल अधिकतर लोग ब्लड प्रेशर, मोटापा और ब्लड शुगर जैसी गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं, जो दिल की बीमारी को न्योता देने का काम करती हैं। इसके अलावा खान-पान में लापरवाही, स्मोकिंग और अल्कोहल के सेवन से भी दिल की बीमारियों का खतरा कई गुना अधिक बढ़ जाता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

हालांकि, कई डॉक्टर कुछ मरीजों को ज्यादा अंडे न खाने की सलाह देते हैं। इस पर स्टडी के सहलेखक और ‘पेकिंग यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ के एसोसिएट प्रोफेसर Canqing Yu ने बताया कि विटामिन और अन्य गुणों से भरपूर अंडे में भारी मात्रा में कोलेस्ट्रोल भी होता है, जिस वजह से कुछ लोगों को लगता है कि अंडा सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

इसके अलावा उन्होंने ये भी बताया कि अभी तक अंडे के सेवन और दिल संबंधी समस्याओं पर जितनी भी स्टडी हुई हैं, उनमें काफी कम जानकारी दी गई है। उन सभी स्टडी में खान-पान की आदतें, जीवनशैली और बीमारी होने के कारणों में काफी अंतर है, जिस वजह से उन्होंने और उनके अन्य साथियों ने अंडे के सेवन से दिल की बीमारियों के संबंध को देखते हुए इस पर रिसर्च करने का फैसला किया।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं ने एक दूसरी स्टडी के डेटा को भी इस्तेमाल किया, जिसमें चीन के 10 अलग-अलग क्षेत्रों में रहने वाले लगभग लाखों लोगों को शामिल किया गया था। उस स्टडी में करीबन 416,213 ऐसे लोग थे जिनको कभी कैंसर, डायबिटीज या दिल से जुड़ी कोई बीमारी नहीं हुई थी।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

बता दें, इनमें से 13 फीसदी लोग 30 से 79 की उम्र वाले थे,जो रोजाना अंडा खाते थे। वहीं 9 फीसदी लोग ऐसे भी सामने आए जो अंडा नहीं खाते थे लेकिन चिकन खाते थे। लगभग 9 साल की रिसर्च के बाद शोधकर्ता इस स्टडी के नतीजों पर पहुंचे है। शोधकर्ताओं ने बताया कि चीन में सबसे ज्यादा मौतें दिल की बीमारियों की वजह से होती हैं।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

इसके अलावा स्टडी के दौरान लगभग 9,985 लोगों की दिल की बीमारी की वजह से मौत के मामले सामने आए। वहीं, करीब 84,000 लोगों में दिल की बीमारी की शिकायत सामने आई। सभी जानकारी का विश्लेषण करने के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि अंडे खाने वाले लोगों में उन लोगों के मुकाबले दिल की बीमारी होने का खतरा बेहद कम होता है जो अंडा नहीं खाते हैं।

...इसलिए आपको रोज खाना चाहिए एक अंडा

WeForNews

Continue Reading

स्वास्थ्य

हरी मिर्च खाने के 7 फायदे

Published

on

chili-
File Photo

हरी मिर्च का हम लोग केवल खाना बनाने में इस्तेमाल करते हैं लेकिन इसके फायदे से आनजान हैं।

आइए हरी मिर्च के खाने के फायदों के बारे में जानते हैं।

हरी मिर्च में कई तरह के पोषक तत्वों जैसे- विटामिन ए, बी6, सी, आयरन, कॉपर, पोटेशियम, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होता है। यही नहीं इसमें बीटा कैरोटीन, क्रीप्टोक्सान्थिन, लुटेन -जॅक्सन्थि‍न आदि स्वास्थ्यवर्धक चीजें मौजूद हैं।

वैसे तो आमतौर पर इसका इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए ही किया जाता रहा है लेकिन हाल में हुए कई शोध इस बात का दावा करते हैं कि हरी मिर्च खाने से कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।

हरी मिर्च खाने के फायदे

1. हरी मिर्च में विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में होता है। विटामिन सी दूसरे विटामिन्स को शरीर में भली प्रकार अवशोषित होने में मदद करता है।

हरी मिर्च

2. हरी मिर्च एंटी-ऑक्सीडेंट का एक अच्छा माध्यम है। हरी मिर्च में डाइट्री फाइबर्स प्रचुर मात्रा में होते हैं, जिससे पाचन क्रिया सुचारू बनी रहती है।

3. विटामिन ए से भरपूर हरी मिर्च आंखों और त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होती है।

eye

4. हाल में हुई कुछ स्टडीज के मुताबिक, हरी मिर्च ब्लड शुगर को कम करने में कारगर होती है

5. हरी मिर्च को मूड बूस्टर के रूप में भी जाना जाता है यह मस्तिष्क में एंडोर्फिन का संचार करती है जिससे हमारा मूड काफी हद तक खुशनुमा रहने में मदद मिलती है।

मूड बूस्टर

6. कई शोधों में लंग कैंसर से बचाव के तौर पर भी हरी मिर्च के प्रयोग को फायदेमंद माना गया है। हालांकि अभी तक इसकी कोई प्रमाणिक पुष्टि नहीं हो सकी है।

7. हरी मिर्च में एंटी-बैक्टीरियल गुण भी होते हैं, जिसकी वजह से शरीर बैक्टीरिया-फ्री रहता है और यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में भी मदद करता है।

Wefornews Bureau

Continue Reading

लाइफस्टाइल

मोमोज खाने से आपकी सेहत को होते है ये नुकसान

Published

on

Momo

मोमोज का नाम सुनते ही कई सारे लोगो के मुंह में पानी आ जाता है। हर किसी को मोमोज खाना पसंद होता है। मार्किट में कई तरह के मोमोज मिलते है जैसे-वेज, नॉन वेज मोमोज, फ्राइड,तंदूरी, आदि।

अगर आप भी मोमोज खाने के शौकीन है तो आपको ये बात जानना ज़रूरी है कि इसे खाने से सेहत को क्या नुकसान होता है। आप अपनी भूख मिटाने के लिए बाहर सड़क में लगी ठेली से मोमोज खा तो लेते है मगर आपको ये नहीं मालूम होगा की उसके खाने के बाद इसका आपकी सेहत पर क्या असर पढ़ता है।

बता दें कही जीभ का स्वाद आपकी जान के लिए बड़ा खतरा न बन जाए। मोमोज खाने में चटपटे और स्वादिष्ट तो ज़रूर होते है लेकिन ये आपकी सेहत के लिए उतने ही हानिकारक होते है।

momo

आइए जानते है की मोमोज खाने से क्या नुकसान होते है।

बहुत कम लोगो को पता होगा की इससे हमारे शरीर की हड्डियाँ कमजोर होती है। दरअसल मैदे में कम मात्रा में प्रोटीन होता है और इसे भाप देते समय यह भी निकल जाता है जिससे हड्डियों में कमजोरी आ जाती है। इसीलिए इसका सेवन तत्काल प्रभाव से छोड़ दे।

मोमोज मैदे से बनता है और मैदे में बहुत अधिक ग्लाईसेमिक इंडेक्स पाया जाता है जो की शरीर में सुगर की मात्रा को दबा देता है। इसीलिए अगर आप सुगर जैसे बयानक बीमारी से बचना चाहते है तो मोमोज खाना बंद कर दें।

बता दें मोमोज को सॉफ्ट बनने वाले मैदे में बिलीचिंग का इस्तेमाल करते है। जिससे बॉडी खरब होने के साथ हमरा इन्सुलिन लेवल खरब हो जाता है। मैदे में फाइबर नही होता इसे सफ़ेद और चमकदार बनाने के लिए बेंजोयल पराक्साइड से बिलिच किया जाता है।

जो आपके शरीर को बेहद नुकसान देता है। आपको नही पता होगा मैदा खाने से आपको डायजेशन की समस्या हो जाती है।

बता दें मोमोज में बहुत अधिक मात्रा में ग्लूकोज भी पाया जाता है जिसके स्टोर होने से हमारे ह्रदय को खतरा होता है और ह्रदय संबंधित बीमारियाँ होने लगती है। अगर ह्रदय की कोई बीमारी आपको एक बार पकड़ लेती है तो यह हमेशा के लिए रहती है इसीलिए आपको मोमोज के सेवन से बचना चाहिए।

WeForNews

Continue Reading

Most Popular