अमेरिका सहित 50 देशों ने बोइंग मैक्स 8 विमानों की सेवाएं रोकी | WeForNewsHindi | Latest, News Update, -Top Story
Connect with us

अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका सहित 50 देशों ने बोइंग मैक्स 8 विमानों की सेवाएं रोकी

Published

on

File Photo

अमेरिका सहित दुनिया के 50 देशों ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों को या तो परिचालन से बाहर या प्रतिबंध लगा दिया है और यह कदम इथोपियाई एयरलाइंस के इसी मॉडल के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद उठाया गया है, जिसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी।

‘सीएनएन’ ने बताया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संघीय विमानन प्रशासन (एफएए) के समक्ष बुधवार को मीडिया से यह बात की।

ट्रंप ने कहा, “मैं कोई जोखिम नहीं लेना चाहता था। हमें इस पर आज ही फैसला नहीं करना था। हम इसमें देरी कर सकते थे। लेकिन मुझे लगा कि यह मनोवैज्ञानिक और भी दूसरी वजहों से महत्वपूर्ण है।”

ट्रंप ने कहा कि उनका निर्णय तथ्यों पर आधारित है लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि यह आंशिक रूप से अमेरिकी यात्रियों की मनोवैज्ञानिक हालत का ध्यान रखते हुए किया गया है।

उन्होंने कहा, “अमेरिकी लोगों की सुरक्षा हमारी सर्वोपरि चिंता है।” एफएए के अनुसार, वैश्विक तौर पर 370 बोइंग 737 मैक्स जेट विमानों में से 74 को अमेरिकी एयरलाइनों द्वारा उड़ाया जाता है। इनमें युनाइटेड एयरलाइंस, साउथवेस्ट एयरलाइंस और अमेरिकन एयरलाइंस शामिल हैं।

अमेरिका द्वारा देश के अंदर विमानों के संचालन को निलंबित करने के फैसले के कुछ ही घंटों बाद मेक्सिको ने भी बुधवार शाम बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों के खिलाफ कार्रवाई की।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने कहा कि मैक्सिकन हवाई क्षेत्र में उड़ान भरने वाले विमानों की सुरक्षा की गारंटी की अगली सूचना तक इन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

वहीं, गुरुवार को दक्षिण कोरिया और थाईलैंड ने भी इन विमानों का परिचालन रोक दिया। बोइंग 737 मैक्स विमानों का परिचालन रोकने वाले देशों में भारत, चीन, यूरोपीय संघ, ब्रिटेन, कनाडा और आस्ट्रेलिया शामिल हैं।

बता दें कि रविवार को हुई दुर्घटना से कुछ महीने पहले अक्टूबर में इंडोनेशिया में लॉयन एयर का विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था जिसमें विमान में सवार सभी 189 लोगों की मौत हुई थी। दोनों ही दुर्घटनाओं में 737 मैक्स के बेड़े के विमान शामिल थे और दोनों ही बिल्कुल नए थे।

–आईएएनएस

अंतरराष्ट्रीय

न्यूजीलैंड ने क्राइस्टचर्च हमलावर के घोषणापत्र पर प्रतिबंध लगाया

Published

on

Christchurch
File Photo

न्यूजीलैंड में उस घोषणापत्र को पास रखने तथा वितरित करने पर प्रतिबंध लगा दिया है जिसे कथित तौर पर क्राइस्टचर्च में 15 मार्च को अंधाधुंध गोलीबारी कर 50 लोगों को मारने वाले बंदूकधारी द्वारा लिखा गया था।

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, ऑफिस ऑफ फिल्म एंड लिटरेचर क्लासीफिकेशन ने घोषणा करते हुए कहा कि कानून के अंतर्गत यह दस्तावेज आपत्तिजनक है।

नरसंहार के आरोपी ऑस्ट्रेलियाई युवक ब्रेंटन टरांट (28) का कथित घोषणापत्र 80 से ज्यादा पन्नों का है तथा इसमें प्रवासियों और मुस्लिमों के विरोध में बातें लिखी हैं।

न्यूजीलैंड के मुख्य सेंसर डेविड शैंक्स ने कहा, “ऐसे घृणास्पद वक्तव्य जिसे कई दक्षिणपंथी विचारधारा के लोगों द्वारा खारिज किया जा सकता है, लेकिन जिसकी अभिव्यक्ति गैर-कानूनी नहीं है, और इस प्रकार का प्रकाशन जिसे जानबूझ कर आगे हत्या और आतंकवाद के लिए प्रेरित करने के लिए तैयार किया जाता है, उनके बीच फर्क करना जरूरी है।”

हमला करने से ठीक पहले घोषणापत्र सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया गया था तथा प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न के कार्यालय भेज दिया गया था।

गुरुवार को, शैंक्स ने जनता से उस दस्तावेज की प्रतियों, ऑनलाइन पोस्ट या लिंक्स को डिलीट करने की अपील की थी।लोगों से इससे संबंधित सोशल मीडिया पोस्ट, लिंक या वेबसाइट की शिकायत करने को भी कहा गया है।

शैंक्स ने कहा, “न्यूजीलैंड वासी हत्या, घृणा और आतंक के लिए प्रेरित करने वालों को खारिज करने में अपनी भूमिका निभा सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “इसे दोबारा प्रकाशित कर या वितरित कर आरोपी के जानलेवा उद्देश्यों में साथ न दें।”इसी सप्ताह, प्रशासन ने नरसंहार के वीडियो पर प्रतिबंध लगा दिया था।

–आईएएनएस

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

चीन: टूरिस्ट बस में आग लगने से 26 की मौत

Published

on

China-
फोटो -Patrika न्यूज

चीन के हुनान प्रांत में यात्रियों से भरी एक बस में अचानक आग लगने से 26 लोगों की मौत हो गई और 28 अन्य घायल हो गए।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चीन की प्रदेश समिति के प्रचार विभाग ने बताया कि गंभीर रूप से घायल पांच लोगों को तीन स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

पड़ोसी राज्य से आ रही 59 सीटर एक बस में चांगडे शहर में हंसाओ काउंटी में शुक्रवार शाम लगभग 7.15 बजे अचानक आग लग गई।उस समय बस में दो बस चालकों, एक टूर गाइड तथा 53 यात्रियों समेत कुल 56 लोग सवार थे।

दोनों चालकों को हिरासत में ले लिया गया है और आग लगने के कारणों का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है। बता दें कि बीते तीन दिनों में चीन में यह तीसरी घटना है। 21 मार्च को चीन में एक केमिकल फैक्ट्री में धमाका हुआ था जिसमें 40 लोग मारे गए थे और 300 घायल हो गए थे।

WeForNews

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान को चीन से 2.1 अरब डॉलर का मिलेगा कर्ज

Published

on

Imran-Khan-XI-JINPING
File Photo

पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने घोषणा की है कि स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) चीन से 25 मार्च तक 2.1 अरब डॉलर का कर्ज प्राप्त करेगा।

डॉन न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, मंत्रालय के प्रवक्ता खकान नजीब खान ने गुरुवार को कहा कि चीन सरकार द्वारा पाकिस्तान को मुहैया कराए जाने वाली कर्ज की सभी प्रक्रियागत औपचारिकताओं को पूरा कर लिया है और इस राशि को सोमवार 25 मार्च को एसबीपी के खाते में जमा कर दिया जाएगा।

प्रवक्ता ने कहा कि इस कर्ज सुविधा से विदेशी मुद्रा भंडार मजबूत होगा और भुगतान स्थिरता सुनिश्चित होगी।

बीजिंग में चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग व पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बीच नवंबर 2018 में हुई बैठक के बाद चीन ने कहा था कि वह इस्लामाबाद को उसके वर्तमान वित्तीय संकटों को दूर करने में मदद करने की पेशकश करने के लिए तैयार है और सहायता की शर्तों पर अभी भी चर्चा की जा रही है।

–आईएएनएस

Continue Reading

Most Popular