Connect with us

स्वास्थ्य

देश में 34 फीसद लोग नहीं करते पर्याप्त व्यायाम

Published

on

exercise-
File Photo

देश में लगभग 34 प्रतिशत लोग (24.7 प्रतिशत पुरुष और 43.9 प्रतिशत महिलाएं) स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त व्यायाम नहीं करते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की हाल में आई एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, वैश्विक स्तर पर 1.4 अरब से अधिक वयस्कों को पर्याप्त शारीरिक गतिविधि न करने से बीमारियों का खतरा है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 2001 से शारीरिक गतिविधि के वैश्विक स्तर में कोई सुधार नहीं है।

व्यायाम की कमी से समय के साथ हृदय रोग, टाइप 2 मधुमेह, डिमेंशिया और कैंसर जैसी समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है। यह अस्वास्थ्यकर भोजन पैटर्न और बीमारियों के पारिवारिक इतिहास के साथ-साथ स्थिति को और भी बढ़ा सकता है।

हार्ट केयर फाउंडेशन (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, ज्यादातर समय बैठे रहने की जीवनशैली के स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। जिन लोगों के पास डेस्क की नौकरियां हैं, वे कुर्सियों पर बैठे हुए अपना अधिकांश कामकाजी समय गुजारते हैं। यह उनकी मजबूरी है, लेकिन वे नियमित व्यायाम से इसके नकारात्मक प्रभावों को कम कर सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “इस साल के शुरू में प्रकाशित एक अध्ययन में अमेरिकी जर्नल ऑफ एपिडेमियोलॉजी में दिखाया गया है कि व्यायाम की कमी मानव शरीर को सेलुलर स्तर तक सीधे प्रभावित करती है। बुजुर्ग महिलाएं जो कम शारीरिक गतिविधि वाले दिन में 10 घंटे से अधिक समय तक बैठती हैं, उनमें ऐसी कोशिकाएं होती हैं जो आठ साल पहले ही जैविक रूप से वृद्ध होती जाती हैं।”

डॉ. अग्रवाल ने बताया, “परिवार में छोटे और क्रमिक परिवर्तन किए जा सकते हैं, ताकि कोई भी बिना व्यायाम के न रहे। वयस्कों की पहल से स्वस्थ जीवनशैली के लिए युवाओं के सामने भी उदाहरण स्थापित होगा। ऐसे परिवर्तन लोगों को वजन कम करने और बेहतर खाने के विकल्प बनाने में भी मदद कर सकते हैं।

यह उन लोगों के लिए सत्य है जो इस स्थिति के अनुवांशिक संवेदनशीलता वाले हैं।”

डॉ. अग्रवाल के कुछ सुझाव :

-आहार में साबुत अनाज, फल और सब्जियों को शामिल करें।

-रेशेदार भोजन यह सुनिश्चित करेगा कि आप लंबे समय तक पेट भरा महसूस करें

-जितना संभव हो सके प्रोसेस्ड और रिफाइंड भोजन से बचें। बहुत अधिक शराब वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार है

-शराब आपके रक्तचाप और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ा सकती है। पुरुषों को दो पैग प्रतिदिन और महिलाओं को एक पैग तक सीमित रहना चाहिए।

-धूम्रपान करने वालों को मधुमेह होने की दोगुनी आशंका रहती है, इसलिए इस आदत को छोड़ें।

–आईएएनएस

स्वास्थ्य

2016 में शराब पीने से गई 30 लाख से ज्यादा लोगों की जान : WHO

Published

on

alcohol-
फोटो-(ट्विटर-WHO)

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि बहुत अधिक शराब पीने की वजह से साल 2016 में 30 लाख से ज्यादा लोगों की जान गई है।

इसमें  ज्यादातर पुरुष शामिल है। संयुक्त राष्ट्र की इस स्वास्थ्य एजेंसी ने चेतावनी भी दी है। कहा है कि मौजूदा नीतियों पर अमल और उनके नतीजे इस प्रवृति में बड़े बदलाव के लिए नाकाफी हैं। साथ ही, एजेंसी ने अगले 10 साल में शराब की खपत में बढ़ोतरी का पूर्वानुमान व्यक्त किया है।

शनिवार को जारी एक नई रिपोर्ट में डब्ल्यूएचओ ने कहा कि करीब 23.7 करोड़ पुरुष और 4.6 करोड़ महिलाएं अल्कोहल से जुड़ी समस्या का सामना कर रही हैं। इनमें ज्यादातर यूरोप और अमेरिका में रहने वाले हैं। यूरोप में प्रति व्यक्ति शराब की खपत पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है।

जबकि वहां 2010 के मुकाबले अब शराब की खपत में 10 फीसदी तक की कमी हुई है। शराब से जुड़ी मौतों में से एक तिहाई मौंतें कार हादसों या खुद को नुकसान पहुंचाने से जख्मी होने जैसी वारदातों से होती हैं। जबकि करीब 20 फीसदी मौतें पाचनतंत्र में गड़बड़ी या हृदय संबंधी बीमारियों से होती हैं।

कैंसर, संक्रामक रोगों, मानसिक विकारों और स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याओं की वजह से भी ये मौतें होती हैं। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एडहानोम घेब्रेयीसस ने कहा, ‘कई लोग, उनके परिजन और उनका समुदाय हिंसा, जख्म, मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं और कैंसर एवं स्ट्रोक जैसे रोगों के जरिए अल्कोहल के नुकसानदेह इस्तेमाल के नतीजे भुगतते हैं। उन्होंने कहा कि सेहतमंद समाज के निर्माण की राह में इस सबसे बड़े खतरे को रोकने की खातिर प्रभावी कार्रवाई करने का वक्त आ गया है।

WeForNews

Continue Reading

स्वास्थ्य

वजन कम करने के लिए सुबह उठकर करें ये 5 काम

Published

on

weight loss
फाइल फोटो

आधुनिक जीवनशैली के चलते कई लोग मोटापे से पीड़ित हैं। वजन कम करने की तमाम कोशिशों के बाद भी लोगों का वजन कम ही नहीं होता है। चाहें 5 किलो वजन कम करना हो। कई बार डाइटिंग और एक्सरसाइज करने के बावजूद भी वजन कम नहीं होता है।

हम आपको 5 ऐसी चीजें बताने जा रहे हैं, जिन्हें सुबह उठकर करने से आप आसानी से वजन कम कर सकेंगे। सोने के बाद रातभर पानी न पीने और खाने में गैप होने के कारण सुबह उठने पर शरीर डीहाइड्रेड हो जाता है। इसलिए सुबह उठते ही सबसे पहले कम से कम 2 गिलास गुनगुना या ताजा पानी जरूर पिएं।

Image result for Drinking water

सुबह खाली पेट पानी पीने के कई फायदे होते हैं। इससे शरीर में मौजूद टॉक्सिंस बाहर निकल जाते हैं। साथ ही मेटाबॉलिज्म भी मजबूत होता है। हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक, जिनती अच्छी तरह मेटाबॉलिज्म काम करता है उतना ही जल्दी वजन कम होता है।

Related image

गर्म पानी में नींबू, शहद और एक चुटकी दालचीनी का पाउडर मिलाकर पीना और भी ज्यादा फायदेमंद होता है। इसमें भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं, जो मेटाबॉलिज्म को मजबूत बनाते हैं।

Image result for नींबू में पानी

पानी में करी पत्ता उबालकर पिएं। आप चाहें तो करी पत्ता चबाते हैं हुए भी गर्म पानी पी सकते हैं। इससे शरीर से टॉक्सिंस निकल जाते हैं। ब्लड शुगर का स्तर कम होता है और कम समय में वजन भी कम होने लगता है।

Image result for पानी में करी पत्ता

पानी में जीरा उबालकर और नींबू का रस मिलाकर पिएं या रात में जीरे को पानी में भिगो दें और सुबह उठकर जीरे के पानी को छानकर पी लें। ऐसा करने से जीरे इसमें मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम मेटाबॉलिज्म को फायदा पहुंचाते हैं।

सुबह उठकर करें ये 5 काम, जल्द कम हो जाएगा वजन

तनाव से बचने की कोशिश करें क्योंकि ज्यादा तनाव लेने से वजन बढ़ता है। चाहें तो तनाव कम करने के लिए मेडिटेशन भी कर सकते हैं। मेडिटेशन करने से स्ट्रेस दूर होता है। सुबह उठने के बाद कम से कम 10 मिनट तक मेडिटेशन करें। ये तनाव को दूर कर वजन कम करने में मददगार साबित होता है।

WeForNews

Continue Reading

स्वास्थ्य

शरीर में अनचाहा दर्द कही कैंसर की वजह तो नहीं…

Published

on

cancer
File Photo

कैंसर एक ऐसी बिमारी है जिसमें शरीर के किसी एक हिस्से में कोशिकाएं अनियंत्रित तरीके से बढ़ने लगती है।

कैंसरग्रस्त कोशिकाएं पूरे शरीर के ऊतकों व अंगों को नुकसान पहुंचाने लगती हैं। कैंसर आजकल बहुत ही कॉमन बीमारी होती जा रही है और इसके लक्षण भी अलग-2 होते हैं। ऐसे में यह जानना बहुत जरूरी है कि हमें किन बातों को ध्यान में रखना जरूरी है।

नैशनल हेल्थ सर्विस (इंग्लैंड) के मुताबिक, हर तीन में से एक को जीवनकाल में किसी ना किसी तरह का कैंसर हो रहा है। कैंसर भी करीब 200 प्रकार के होते हैं जिसमें से हर टाइप के कैंसर के अलग-अलग लक्षण होते हैं। हालांकि 4 ऐसे कैंसर हैं जिनके लक्षण कुछ-कुछ एक ही तरह के हैं।

इन 4 तरह के कैंसरों में एब्डोमिनल एरिया में दर्द भी एक सामान्य लक्षण है। अधिकतर लोगों को कैंसर का पता आखिरी स्टेज पर चलता है।इसलिए अगर हम कुछ बातों का ध्यान रखें तो शायद हमें इससे निपटने में मदद मिल जाए।

इसके लिए आपको सबसे ज्यादा अपने शरीर में होने वाले किसी भी अजीब से बदलाव पर ध्यान देना होगा, जैसे कि किसी हिस्से में कहीं गांठ, या फिर यूरीन में ब्लड या फिर आंतों में किसी तरह का बदलाव महसूस होना। अगर आपके शरीर के एब्डोमिनल हिस्से में दर्द होता रहता है तो ये इन 4 तरह के कैंसरों का लक्षण हो सकता है।

शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो हो सकता है कैंसर!

बोवेल कैंसर-

इस कैंसर के लक्षणों को बहुत आसानी से पहचाना नहीं जा सकता है, शायद आपको एहसास भी ना हो। हालांकि 90 फीसदी से ज्यादा मरीजों को एब्डोमिनल पेन महसूस होता है, या बेचैनी या सूजन या फिर bowel में किसी भी तरह का बदलाव, या बिना पाइल्स के खून आना।

शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो हो सकता है कैंसर!

इन लक्षणों के दिखने का मतलब यह नहीं है कि आपको bowel cancer ही होगा। हालांकि NHS की सलाह है कि अगर ये लक्षण लगातार 4 हफ्तों से ज्यादा रहते हैं तो फिर आपको डॉक्टर से जांच जरूर करानी चाहिए।

पेट का कैंसर-

पेट का कैंसर वैसे तो बहुत कॉमन नहीं है लेकिन ब्रिटेन में करीब हर साल 7000 लोग इसकी चपेट में आ जाते हैं। इसके भी शुरुआती लक्षण बहुत स्पष्ट नहीं होते हैं और इनको अधिकतर लोग छोटी-मोटी बीमारी समझकर नजरअंदाज कर देते हैं। इसके शुरुआती लक्षणों में पेट दर्द, खाने के बाद ब्लोटिंग, पेट में सूजन, डकार, पाचन की समस्या, हार्टबर्न हैं। एडवांस स्टोमक कैंसर के लक्षण मल में खून आना, भूख खत्म हो जाना, अचानक से वजन घटना आदि हैं।

अग्नाशय का कैंसर-

अग्नाश्य कैंसर के शुरुआती स्टेज में लक्षण ज्यादा स्पष्ट नहीं होते हैं जिससे इसकी पहचान करना मुश्किल हो जाता है. इसका पहला लक्षण अक्सर बैक पेन या पेट में दर्द होना, अचानक से वजन घट जाना, पीलिया होना आदि है। इसके दूसरे संभावित लक्षणों में वॉमिटिंग, डायरिया, कब्ज, बुखार, कांपना, ज्यादा भूख या प्यास लगना, पाचन में समस्या, खून के थक्के बनना है।

शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो हो सकता है कैंसर!

ओवरियन कैंसर-

महिलाओं में ओवरियन कैंसर के लक्षणों को अक्सर बोवेल सिंड्रोम या पीरियड्स से जोड़कर देखा जाता है। ओवरियन कैंसर का सबसे सामान्य लक्षण है पेट या पेल्विस में बेचैनी महसूस होना, सूजन का बने रहना, जल्दी भूख खत्म हो जाना और सामान्य से ज्यादा बार पेशाब करना।

इसके दूसरे लक्षणों में लगातार भोजन ना पचना, उल्टियां, सेक्स के दौरान दर्द, बैक पेन, वजाइनल ब्लीडिंग, हर समय थकान महसूस करना और बिना किसी खास वजह के वजन कम हो जाना। इसकी मुख्य वजह तंबाकू के सेवन की स्थानीय आदत, खान-पान के तरीके और सामाजिक-आर्थिक तथा रहन-सहन जैसे कारक होती है।

इन कारकों की वजह से हमारे देश में इस समय दिखाई दे रहा अधिकतर कैंसर आसानी से दिखने वाली जगहों पर या अंगुली की पहुंच के भीतर होता है। लेकिन दुख की बात यह है कि शुरू में ही बीमारी का निदान करा लेने के सहज लाभ के बावजूद हमारे देश में 80 प्रतिशत से अधिक कैंसर रोगी थर्ड और फोर्थ स्टेज में इलाज के लिए आते हैं, और इस समय तक अधिकतर मामले लाइलाज हो जाते हैं।

WeForNews

Continue Reading
Advertisement
manvendra singh
राजनीति2 hours ago

बीजेपी नेता जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने छोड़ी बीजेपी

-iran-
अंतरराष्ट्रीय2 hours ago

ईरान : सैन्य परेड पर हमले में 24 की मौत

rahul gandhi
राजनीति2 hours ago

राहुल ने मोदी से पूछा- अब तो बताओ, ओलांद सच कह रहे हैं या झूठ

modi-imran
राष्ट्रीय2 hours ago

वार्ता रद्द होने को पाक पीएम ने बताया हठी नकारात्मक प्रतिक्रिया

nil nitesh-
मनोरंजन2 hours ago

नील नितिन मुकेश ने अपनी बेटी का नाम रखा नूरवी

alcohol-
स्वास्थ्य3 hours ago

2016 में शराब पीने से गई 30 लाख से ज्यादा लोगों की जान : WHO

ganesh..-min
शहर3 hours ago

मिसाल: यूपी के इस शहर में गणपति पंडाल के सामने सजा ताजिया

Vishva Hindu Parishad
राष्ट्रीय3 hours ago

राम मंदिर आंदोलन पर वीएचपी की 5 अक्‍टूबर को बैठक

Aditi Rao Hydari
मनोरंजन3 hours ago

‘भूमि’ में काम करना पीड़ादायक रहा : अदिति राव

kapil sibal
राजनीति4 hours ago

मप्र व्यापमं घोटाले की जड़ हैं मुख्‍यमंत्री: सिब्बल

Kalidas
ज़रा हटके3 weeks ago

जहां दुनिया का महामूर्ख पैदा हुआ

Homosexuality
ब्लॉग2 weeks ago

समलैंगिकों को अब चाहिए शादी का हक

MODI-SHAH
ब्लॉग4 weeks ago

‘एक देश एक चुनाव’ यानी जनता को उल्लू बनाने के लिए नयी बोतल में पुरानी शराब

RAJU-min
राष्ट्रीय2 days ago

रक्षा मंत्री के दावे को पूर्व एचएएल चीफ ने नकारा, कहा- भारत में ही बना सकते थे राफेल

man-min (1)
ज़रा हटके1 day ago

इस हॉस्पिटल में भूत-प्रेत करते हैं मरीजों का इलाज

Bharat Bandh MP
ब्लॉग2 weeks ago

सवर्णों का ‘भारत बन्द’ तो बहाना है, मकसद तो उन्हें उल्लू बनाना है!

Jaiphal-
लाइफस्टाइल3 weeks ago

जायफल के ये फायदे जो कर देंगे आपको हैरान…

pm modi
ब्लॉग3 weeks ago

सत्ता के लालची न होते तो नोटबन्दी के फ़ेल होने पर मोदी पिछले साल ही इस्तीफ़ा दे देते!

Maharashtra Police
ब्लॉग3 weeks ago

जब सिंहासन डोलने लगता है तब विपक्ष, ‘ख़ून का प्यासा’ ही दिखता है!

rahul gandhi
चुनाव3 weeks ago

कर्नाटक निकाय चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनी कांग्रेस

rahul gandhi
राजनीति2 hours ago

राहुल ने मोदी से पूछा- अब तो बताओ, ओलांद सच कह रहे हैं या झूठ

Nawazuddin-
मनोरंजन10 hours ago

नवाजुद्दीन की वेब सीरीज ‘सैक्रेड गेम्स सीजन 2’ का टीजर जारी

kapil sibal
राजनीति1 day ago

सिब्‍बल ने पूछा- क्‍या यूजीसी 8 नवंबर को ‘सर्जिकल स्‍ट्राइक डे’ मनाएगा?

sadak2
मनोरंजन2 days ago

पूजा-आल‍िया संग महेश भट्ट बनाएंगे ‘सड़क 2’, टीजर जारी

Banda doctor
शहर3 days ago

उप्र : चिकित्सक पिटता रहा, एसपी-डीएम ने नहीं उठाया फोन!

rahul gandhi
राजनीति3 days ago

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज को राहुल ने बताया बीजेपी की तानाशाही

babul
राष्ट्रीय3 days ago

दिव्यांगों के कार्यक्रम में बाबुल सुप्रियो ने दी ‘टांग तोड़ डालने’ की धमकी

nheru-min
राजनीति1 week ago

दीनदयाल की मूर्ति के लिए हटाई गई नेहरू की प्रतिमा

arjun kapoor
मनोरंजन1 week ago

अर्जुन कपूर की फिल्म ‘नमस्ते इंग्लैंड’ का गाना ‘तेरे लिए’ रिलीज

mehul-choksi
राष्ट्रीय2 weeks ago

मेहुल चोकसी का सरेंडर से इनकार, कहा- ईडी ने गलत फंसाया

Most Popular